Bokaro / स्कूल में बच्ची से छेड़खानी के मामले में पारा टीचर को पांच वर्ष कैद की सजा

बोकारो : अपर सत्र न्यायाधीश प्रथम सह विशेष न्यायाधीश पोक्सो रंजीत कुमार की अदालत ने सात वर्षीय छात्रा से छेड़खानी के मामले में सियालजोरी के पारा टीचर उपरबंधा निवासी हीरा लाल रजवार को पांच वर्ष कैद की सजा सुनाई है। अदालत ने पारा टीचर को दस हजार रुपये जुर्माना भी भरने का आदेश दिया है। छेड़खानी की एक अन्य धारा में भी दोषी पाते हुए अदालत ने उसे तीन वर्ष कैद की सजा के साथ दस हजार रुपये जुर्माना भरने का आदेश दिया है। दोनों सजाएं साथ-साथ चलेंगी। पारा टीचर को अदालत ने बीते 17 जून को ही दोषी करार देते हुए सजा के बिंदु पर सुनवाई की तारीख 19 जून की निर्धारित की थी।

इस मामले में अभियोजन का पक्ष अदालत में विशेष लोक अभियोजक संजय कुमार झा ने रखा। बताया जा रहा है कि 20 नवंबर, 2014 को बच्ची स्कूल में पढ़ने गई थी। पारा टीचर हीरा लाल रजवार बच्ची को अपने कार्यालय में जाकर मोबाइल ले आने को कहा। बच्ची मोबाइल को लेने शिक्षक के कहे अनुसार उनके कार्यालय में गई। मोबाइल में गंदा फिल्म दिखाई पड़ रहा था। बच्ची शिक्षक को मोबाइल लाकर दे दी। इसके बाद शिक्षक ने बच्ची से छत पर झाडू लेकर आने को कहा। बच्ची जब छत पर झाडू लेकर गई तो यहां उसने उसके साथ छेड़खानी की। बच्ची अपने घर पहुंची और परिजनों को पूरी घटना की जानकारी दी। परिजन इस मामले में प्राथमिकी दर्ज कराए।

Related News