डीपीएस बोकारो के 32वें खेल-दिवस ‘समागम’ में बच्चों ने बिखेरी बहुरंगी छटा

राज्य व राष्ट्र का गौरव बढ़ा रहे हैं डीपीएस बोकारो के विद्यार्थी: मुकुल प्रसाद

बोकारो। दिल्ली पब्लिक स्कूल, बोकारो का 32वां वार्षिक खेल दिवस शुक्रवार को समारोह पूर्वक मनाया गया। ‘शिक्षित भारत-स्वच्छ भारत-संपन्न भारत’ थीम पर डीपीएस सेक्टर 4 में आयोजित इस खेल दिवस समारोह ‘समागम’ का उद्घाटन मुख्य अतिथि बीएसएल के ईडी (कार्मिक एवं प्रशासन) सह डीपीएस बोकारो प्रबंध समिति के प्रो-वाइस चेयरमैन मुकुल प्रसाद ने किया।

इस अवसर पर छात्राओं ने बहुत ही सुमधुर स्वागत गान व स्कूल गीत सुनाकर सबका मन जीत लिया। प्राइमरी इकाई के बच्चों ने जुम्बा डांस व सीनियर इकाई के छात्र-छात्राओं ने ड्रील, फिल्ड डिस्प्ले व समूह नृत्य की भव्य प्रस्तुति से समां बांध दिया। गंगा, जमुना, रावी, चिनाब, सतलज व झेलम हाउस के विद्यार्थियों द्वारा प्रस्तुत आकर्षक मार्च पास्ट भी काबिलेतारीफ थी। मौलिक शिक्षा से वंचित बच्चों के लिए डीपीएस बोकारो द्वारा संचालित दीपांश शिक्षा केन्द्र के बच्चों ने समूह नृत्य की मनोहारी प्रस्तुति दी। प्रारंभ में स्वागत भाषण विद्यालय के हेड ब्याॅय समृद्ध रंजन ने किया।

मुख्य अतिथि श्री प्रसाद ने अपने संबोधन में कहा कि डीपीएस बोकारो के बच्चे पढ़़ाई के साथ ही सांस्कृतिक व खेल-कूद की गतिविधियों में भी उम्दा प्रदर्शन कर बोकारो ही नहीं अपितु राज्य व राष्ट्र का गौरव बढ़ा रहे हैं। इसी का प्रमाण है कि इस वर्ष डीपीएस बोकारो को कई राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय सम्मान मिले हैं, जिनमें एजुकेशन वल्र्ड द्वारा सर्वश्रेष्ठ स्कूल अवाॅर्ड, राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त सेंटर फॉर एजुकेशन डेवलपमेंट (सीईडी) फाउंडेशन का एडुलीडर्स अवाॅर्ड, डीपीएस बोकारो के प्राचार्य ए एस गंगवार को ‘भारत के सर्वश्रेष्ठ प्रोग्रेसिव प्रिंसिपल अवाॅर्ड 2019’, कंज्यूमर्स रिचर्स रिपोर्ट, इंटरनेशनल ब्रांड कॉर्पोरेशन (आईबीसी), अमेरिका द्वारा एशिया के ‘बेस्ट स्कूल’ का पुरस्कार आदि शामिल हैं।

उन्होंने जीवन में खेल-कूद की अहमिहत पर प्रकाश डालते हुए कहा कि इससे टीम भावना, अनुशासन का विकास होता है साथ ही असफलता से उबरने की सीख भी मिलती है। उन्होंने विद्यार्थियों द्वारा प्रस्तुत स्वागत गान, ड्रील, फिल्ड डिस्प्ले, मार्चपास्ट आदि की सराहना करते हुए कहा कि यहां बच्चों के संपूर्ण विकास पर ध्यान दिया जाता है, जो प्रशंसनीय व अनुकरणीय हैं।

प्राचार्य श्री गंगवार ने अपने संबोधन में खेल-कूद को विद्यार्थी जीवन का अहम् हिस्सा बताते हुए कहा कि इसमें हार-जीत से ज्यादा प्रतिभागिता का महत्त्व है। खेल हमें व्यावहारिक रुप से बहुत सी बातें सिखाता है। शारीरिक एवं मानसिक बल का सुंदर समन्वय हमें खेल-कूद स्पर्धाओं में देखने को मिलता है जो विद्यार्थियों की प्रतिभा के विकास हेतु जरूरी हैं। उन्होंने कहा कि खेल-कूद में अच्छा कैरियर, प्रसिद्धि सबकुछ है। जरूरत है अपनी प्रतिभा व रुचि का आकलन कर आगे बढ़ने की।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि श्री मुकुल प्रसाद, डीपीएस बोकारो के प्राचार्य ए एस गंगवार व अन्य अतिथियों क्रिसेंट पब्लिक स्कूल के प्राचार्य अनिल कुमार गुप्ता, जीजीपीएस चास के प्राचार्य जोस थोमस, एआरएस के निदेशक आरएल यादव, प्राचार्य विश्वजीत पात्रा, एसएनएसवीएम घाटशिला के प्राचार्य संजय कुमार मल्लिक ने खेल दिवस के उपलक्ष्य में प्रकाशित विद्यालय की पत्रिका ‘जेनिथ’ का लोकार्पण किया।

विभिन्न खेल स्पर्धाओं में सैकड़ों विद्यार्थियों ने उत्साहपूर्वक हिस्सा लिया। बेहतर प्रदर्शन के आधार पर 962 अंक के साथ रावी हाउस प्रथम, 931 अंक लेकर चिनाब हाउस द्वितीय व 927 अंक के साथ गंगा हाउस तृतीय स्थान पर रहा। मौलिक शिक्षा से वंचित बच्चों के लिए डीपीएस, बोकारो द्वारा संचालित ‘दीपांश शिक्षा केन्द्र’ के बच्चों ने भी खेल दिवस में हिस्सा लिया। विजेता बच्चों को मुख्य अतिथि श्री प्रसाद, प्राचार्य ए एस गंगवार व अन्य अतिथियों ने पुरस्कृत किया। मंच संचालन छात्र अक्षत सिंह, समृद्धि, अस्मिता शर्मा व चिन्मय महापात्रा तथा धन्यवाद ज्ञापन वाईस हेड गर्ल तनीशा परमार ने किया।

इस मौके पर डीपीएस के उपप्राचार्य प्रवीण कुमार शर्मा, उपप्राचार्या पी शैलजा जयकुमार, हेडमास्टर अंजनी भूषण, अशोक कुमार सिंह, हेडमिस्ट्रेस मनीषा शर्मा, शालिनी शर्मा, सुनीता भारद्वाज सहित सभी शिक्षक उपस्थित थे। आयोजन की सफलता में गतिविधि प्रभारी प्रीति सिन्हा, आभा कुमारी झा, खेल शिक्षक ब्रजेश कुमार सिंह, उषा श्रीवास्तव, निभा कुमारी, अरुण कुमार पांडेय, देवेन्द्र कुमार, रुपेश कुमार, कला शिक्षक सुनील कुमार, कामिनी कांता स्वेन, अनिल कुमार गोप, नृत्य शिक्षक निर्माल्य शर्मा, जी नटराजन परमेश्वरन, स्वीटी, सौरभ चटर्जी, संगीत शिक्षक विक्की आनंद पाठक, जय प्रकाश सिन्हा, भास्कर रंजन डे, निमेश राठौर, मृत्युंजय भट्टाचार्य सहित विद्यालय परिवार के सदस्यों का सराहनीय योगदान रहा।

100 मीटर दौड़ (अंडर-19) बालकों में साईदीप को प्रथम, अनुभव कुमार को द्वितीय व सानिध्य प्रताप सिंह को तृतीय स्थान मिला, जबकि बालिकाओं में साक्षी ने प्रथम, अंकिता विश्वास ने द्वितीय व अद्याशा मिश्रा ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।

100 मीटर दौड़ (अंडर-14) बालकों में दिव्यांशु कुमार को प्रथम, रुद्र प्रताप सिंह को द्वितीय तथा मोहित कुमार को तृतीय स्थान तथा बालिकाओं में सिद्धि श्री को प्रथम, अनुष्का यशी को द्वितीय व श्रेया सिंह को तृतीय स्थान मिला।

कक्षा 5 के विद्यार्थियों के लिए आयोजित 100 मीटर दौड़ में इंद्रजीत राज ने प्रथम, एमएस शंकर ने द्वितीय व तनीष आर्यन ने तृतीय (बालक) तथा श्रेया शर्मा ने प्रथम, अनुष्का कुमारी ने द्वितीय व श्रेया श्री ने तृतीय (बालिका) स्थान प्राप्त किया। कक्षा 4 के लिए आयोजित इसी स्पर्धा में बालकों में विकल्प वर्णवाल, चेतन राजपूत व आयुष वर्मा तथा बालिकाओं में गुर्लीन, श्रेया व अनुष्का ने क्रमशः प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त किया।

ADVERTISEMENT :: 

Related News