रोजगार के अवसरों को लेकर जागरुकता फैलाने के लिए ई-रोजगार समाचार लांच

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री श्री प्रकाश जावड़ेकर ने हाल ही में रोजगार समाचार के ई-संस्करण को लांच किया। इसे उम्मीदवारों को सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों समेत सरकारी नौकरियों के अवसरों की जानकारी देने के लिए लांच किया गया है। यह विशेषज्ञों के करियर संबंधी लेखों के जरिये विभिन्न क्षेत्रों में करियर के अवसरों और दाखिलों को लेकर भी जानकारी एवं मार्गदर्शन उपलब्ध कराएगा। उम्मीद है कि इससे संचार के इलेक्ट्रॉनिक माध्यमों की ओर जा चुके युवा पाठकों की उभरती चुनौतियों को पूरा किया जा सकेगा।

इस जर्नल का मूल्य प्रिंट संस्करण की कीमत का 75% रखा गया है। यह 400 रुपये के वार्षिक शुल्क पर उपलब्ध है।

इसे www.employmentnews.gov.in वेबसाइट पर जाकर और ई-वर्जन टैब पर क्लिक कर देखा जा सकता है।

पृष्ठभूमि 

रोजगार समाचार इंप्लायमेंट न्यूज़ (अंग्रेजी) का हिंदी संस्करण है। इंप्लायमेंट न्यूज़ भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय  का फ्लैगशिप साप्ताहिक रोजगार जर्नल है। इसे वर्ष 1976 में देश के बेरोजगार युवाओं को रोजगार के अवसरों की जानकारी उपलब्ध कराने के लिए शुरू किया गया था। यह जर्नल अंग्रेजी (इंप्लायमेंट न्यूज़), हिंदी (रोजगार समाचार) और उर्दू (रोजगार समाचार) में प्रकाशित होता है। इसकी प्रसार संख्या एक लाख कॉपियां प्रति सप्ताह है।

यह जर्नल निम्मलिखित जगहों पर रिक्त नौकरियों से संबंधित जानकारी, रोजगार परक प्रशिक्षण कार्यक्रमों, रोजगार संबंधी परीक्षाओं से जुड़े प्रवेश संबंधी नोटिस और भर्ती परीक्षाओं के परिणाम प्रकाशित करता हैः

अ)   मंत्रालयों/विभागों/कार्यालयों/संगठनों/स्वायत्त इकाइयों/सोसायटियों/ केंद्रीय, राजकीय एवं संघ शासित प्रदेशों के तहत आने वाले सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों;

आ) राष्ट्रीय बैंकों/आरआरबी/यूपीएससी/एसएससी/संवैधानिक एवं वैधानिक निकायों; और

इ)     केंद्र/राज्य सरकारों के विश्वविद्यालय/कॉलेज अथवा यूजीसी/एआईसीटीई से मान्यता प्राप्त संस्थान।

इस सबके अतिरिक्त, इंप्लायमेंट न्यूज सामाजिक-आर्थिक मुद्दों पर संपादकीय सामग्री और करियर संबंधी सलाह देता है, जो युवाओं को उनके ज्ञान को बढ़ाने में मददगार होती है। यह रोजगार जर्नल खासकर ग्रामीण इलाकों के युवाओं की एक मार्गदर्शक की तरह मदद करता है। उनमें बाजार में रोजगार को लेकर समझ विकसित करता है और रोजगार के उपलब्ध ऐसे अवसरों की तरफ ध्यान दिलाता है, जिन पर किसी की नजर नहीं जाती। यह साप्ताहिक युवाओं को उनके करियर  को लेकर सही निर्णय लेने के लिए शिक्षित करता है।

इस जर्नल को सामाजिक दायित्वों को पूरा करने के लिए शुरू किया गया था लेकिन इसके साथ-साथ इंप्लायमेंट न्यूज/रोजगार समाचार नियमित रूप से पर्याप्त लाभ कमा रहा है। यह जर्नल प्रत्येक शनिवार को देश के हर हिस्से में उपलब्ध होता है।

Related News