कलाकृति स्कूल ऑफ़ आर्ट्स में “माँ तुझे सलाम” वाटर कलर कार्यशाला

बच्चों की अपने कैनवास पे उकेरा आजादी के 73 वर्षों का सफ़र

राँची :: कलाकृति स्कूल ऑफ़ आर्ट्स डोरंडा एवं हटिया केंद्र और कलाकृति आर्ट फाउंडेशन के तत्वाधान में दिनांक 12 अगस्त 2019 को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर दो दिवसीय “स्वतंत्रता पर्व 2019” के अंतर्गत आज “माँ तुझे सालम” पेंटिंग कार्यशाला का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर संस्था निदेशक एवं कला शिक्षक धनंजय कुमार के मार्ग दर्शन में सीनियर छात्रों ने देश भक्ति विषय पर वाटर कलर चित्रकला कार्यशाला का आयोजन किया गया है जिसमे संस्था के सीनियर छात्रों ने भाग लिया। छात्रों ने अपने पेंटिंग्स के माध्यम से भारत देश के आजादी के 73 वर्षों को दर्शाया। जहाँ बच्चों ने देश के स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान गाथा, देश के सैनिकों के त्याग और बलिदान, देश के सर्वधर्म संप्रभुता, माँ भारती और देश की अंतरिक्ष यात्रा की ऊँची उड़ान चंद्रयान को भी अपने पेंटिंग के माध्यम से दर्शाया। सभी बाल चित्रकारों के पेंटिंग्स में तिरंगा को प्रमुखता से दरसाया गया था। इस अवसर पर छात्रों ने अपने पेंटिंग्स के माध्यम से एकता और शान्ति के साथ रहने का सन्देश दिया।

इस अवसर पर कलाकृति के संस्थापक एवं चित्रकार धनंजय कुमार ने कहा कि इस तरह के कार्यशालों से बच्चों के प्रतिभा को एक मंच मिलता है। देश और देश के लोगों में देश के प्रति सम्मान की भावना को विकसित करती है। इस कार्यशाला में कलाकृति के छात्रों कोमल, शिखा, हर्षिता, हर्ष, श्रिस्टी, विकास, अनिकेत, ऋचा, सुरुचि, अंजलि, माधुरी एवं अकबर ने भाग लिया। पुरस्कार वितरण समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में होमिनोस इवेंट्स के श्री मेहुल प्रसाद एवं डॉटफिश क्रिएटिव एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक श्री शशिकांत जी द्वारा सभी छात्रों को पुरस्कृत किया गया।

इस कार्यक्रम को सफल बनाने में संस्था की उपनिदेशिका श्रीमती रजनी कुमारी एवं अन्य छात्रों का योगदान रहा।

कलाकृति स्कूल ऑफ़ आर्ट्स डोरंडा एवं हटिया में विगत 18 वर्षों से विभिन्न वर्गों के छात्र छात्राओं को चित्रकला की शिक्षा प्रदान करती है। कोई भी इछुक छात्र छात्राएं किसी भी समय संस्था में दाखिला ले सकते हैं। यह जानकारी कलाकृति स्कूल ऑफ़ आर्ट्स के निदेशक एवं कला शिक्षक श्री धनंजय कुमार ने दी।

Related News